logo

Breaking news: बरगाड़ी बेअदबी कांड में आरोपी की हत्या, फायरिंग में गनमैन घायल

पंजाब में हुए श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी मामले में आरोपी डेरा प्रेमी प्रदीप सिंह की आज सुबह फरीदकोट में गोलियां मारकर हत्या कर दी गई है। यह घटना को उस वक्त्त अंजाम दिया गया जब वह अपनी डेयरी खोल रहा था।

 
Breaking news: बरगाड़ी बेअदबी कांड में आरोपी की हत्या, फायरिंग में गनमैन घायल

उसी दौरान 2 मोटरसाइकिल सवार 5 बदमाशों ने उन पर गोलियां चला दी। प्रदीप जमानत पर बाहर आया था। जिसके बाद उसे सुरक्षा मिली हुई थी। घटनास्थल पर प्रदीप सिंह डेरा प्रेमी का गनमैन भी साथ था। हमलावरों ने उस पर भी गोलियां चलाई।

 

ताबड़तोड़ फायरिंग के वक्त पास की एक अन्य दुकान के संचालक को भी गोलियां लगी हैं। वारदात को अंजाम देकर मोटरसाइकिल सवार मौके से फरार हो गए। पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हुई है।

 


गोल्डी बराड़ ने ली कत्ल की जिम्मेदारी


वहीं पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के कत्ल के मास्टरमाइंड गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने इस कत्ल की जिम्मेदारी ली है। सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए गोल्डी बराड़ के नाम से दावा किया गया कि उन्हें बेअदबी केस में इंसाफ नहीं मिला, इसलिए ऐसा करना पड़ा।

गनमैन के घायल होने पर उसमें अफसोस जताया लेकिन यह जरूर कहा गया कि बेअदबी के आरोपियों की सुरक्षा करने को लेकर सवाल उठाए गए। हालांकि यह पोस्ट गोल्डी बराड़ ने की या किसी और ने, पंजाब पुलिस की साइबर सैल इसकी जांच कर रही है।


बिना नंबर प्लेट की बाइक पर आए


डेरा प्रेमी को मारने बदमाश बिना नंबर की बाइक पर आए थे। इससे संभावना जताई जा रही है कि बाइक चोरी की हो। शुरूआती जांच में पता चल रहा है कि बदमाशों ने डेरा प्रेमी के कत्ल की पूरी प्लानिंग की थी। उन्हें पता था कि प्रदीप सुबह के वक्त दुकान खोलता है।

इसके बाद बदमाश वहीं घूमकर उसका इंतजार करते रहे। जैसे ही डेरा प्रेमी ने दुकान खोली तो उसकी गोलियां मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस का कहना है कि इस केस में गनमैन समेत 3 लोग घायल हुए हैं। वारदात की सूचना के तुरंत बाद स्थानीय पुलिस ने चौतरफा नाकाबंदी कर अलर्ट जारी कर दिया है।


बेअदबी या निजी रंजिश, जांच जारी


हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि डेरा प्रेमी प्रदीप का कत्ल बेअदबी में इंसाफ न मिलने की वजह से हुआ है या फिर कोई निजी रंजिश है। पुलिस सीसीटीवी कैमरों के जरिए कातिलों की पहचान करने की कोशिश कर रही है। उनसे पूछताछ के बाद ही पूरा मामला स्पष्ट हो सकेगा।


किसी को शांति भंग की अनुमति नहीं : CM


इस मामले में पंजाब के CM भगवंत मान ने ट्वीट किया है। उन्होंने कहा है कि किसी को भी पंजाब की शांति भंग करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। पंजाब CM ने लिखा- पंजाब एक शांतिप्रिय राज्य है जहां लोगों का आपसी भाईचारा बहुत मजबूत है।

किसी को भी पंजाब की शांति भंग करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। राज्य की शांति बनाए रखने के लिए सिविल और पुलिस अधिकारियों को सख्त निर्देश दे दिए हैं।

यह है बरगाड़ी बेअदबी केस


डेरा सच्चा सौदा समर्थक प्रदीप सिंह बरगाड़ी बेअदबी केस में आरोपी नंबर 63 थे। साल 2015 में श्री गुरुग्रंथ साहिब की बेदअबी का मामला सामने आया था।

बरगाड़ी गांव के गुरुद्वारा साहिब से श्री गुरु ग्रंथ साहिब के पावन स्वरूप को चोरी कर अंग फाड़ दिए गए। जिसके बाद सिख समुदाय ने रोष प्रदर्शन भी किया।

जेल में भी एक डेरा प्रेमी मारा जा चुका


इससे पहले जेल के भीतर भी बेअदबी के आरोपी डेरा प्रेमी महिंदरपाल बिट्‌टू का कत्ल हो चुका है। डेरा प्रेमी बिट्‌टू को बरगाड़ी में श्री गुरू ग्रंथ साहिब की बेअदबी के केस में पकड़ा गया था। 22 जून 2019 को बिट्‌टू का नाभा जेल में कत्ल कर दिया गया था।