logo

पाक खिलाड़ी ने विराट कोहली के साथ अपनी तुलना पर जानिए ये क्या कह दिया

टीम इंडिया के स्टार विराट कोहली ने फॉर्म में वापसी कर ली है और मौजूदा आईसीसी टी20 विश्व कप 2022 में धूम मचा दी है. तेजतर्रार बल्लेबाज वर्तमान में टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं, जिन्होंने केवल पांच मैचों में 246 रन बनाए हैं. 
 
पाक खिलाड़ी ने विराट कोहली के साथ अपनी तुलना पर जानिए ये क्या कह दिया  

विराट कोहली ने एक छोटे से ब्रेक के बाद एशिया कप 2022 में पाकिस्तान के खिलाफ शानदार वापसी की. इसके बाद उन्होंने विश्व कप में कट्टर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ भारत को एमसीजी में एक यादगार जीत दिलाई.

इस बीच एक पाकिस्तानी बल्लेबाज ने विराट कोहली के साथ अपनी तुलना को अनुचित बताया है. विराट कोहली ने इस साल असामान्य रूप से लंबे खराब पैच के बाद शानदार वापसी की.

वहीं, पाकिस्तान के एक क्रिकेटर हैं. जिनकी अपने शुरुआती वर्षों के दौरान कोहली के साथ तुलना की जाती थी. लेकिन 2019 के बाद से अनियमित प्रदर्शन के बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था.

Also Read This: VIDEO: अच्छी फील्डिंग की वजह से पवेलियन लौटे पंत, चूके मौके पर चौका लगाने से

 

अहमद शहजाद ने 2009 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में आने पर शानदार दिखाया था. अंडर-19 विश्व कप में पाकिस्तान के लिए अपनी उपस्थिति के एक साल बाद उन्होंने सीनियर टीम में डेब्यू किया.

30 साल के शहजाद पाकिस्तान के लिए अब तक 13 टेस्ट, 81 वनडे और 59 टी20 मैच खेल चुके हैं. उन्होंने अंतिम टी20 मैच तीन साल पहले खेला था. शहजाद 2017 के बाद से टेस्ट या वनडे मैच में पाकिस्तान टीम में नजर नहीं आए हैं.

क्रिकेट पाकिस्तान पर एक चर्चा के दौरान अहमद शहजाद ने विस्तार से बात की कि कैसे कोहली के साथ तुलना उनके साथ अनुचित थी. इसके साथ ही उन्होंने आगे खुलासा किया कि भारतीय बल्लेबाज के पक्ष में क्या काम किया.


शहजाद ने कहा, ”ये चीज बड़ी खिलाफ जाती है. जब आप तुलना करते हैं. दो मैचों में ही आप पता नहीं कहां से कहां लेकर चले जाते हैं. तुलना हो ही नहीं सकती. दो अलग-अलग व्यक्ति हैं.

दो अलग-अलह जिंदगी जी रहे हैं.” शहजाद ने आगे कहा कि कोहली भाग्यशाली थे कि एमएस धोनी ने उन्हें अपने विंग में ले लिया और राष्ट्रीय टीम में अपने कार्यकाल के दौरान युवा खिलाड़ी का समर्थन किया.


उन्होंने आगे कहा, ”उनकी जिंदगी अलग तरह से गुजर रही है. धोनी थे उनके पास, मेरी जिंदगी अलग तरह के हालातों में. मैं हमेशा से कहता हूं, दो चीजें होती हैं, जिससे आप क्रिकेट खेलते हो.

एक होता है जब हर इंसान आपको सपोर्ट कर रहा हो, एक होता है, जब हर इंसान आपको निकालने की कोशिश कर रहा हो.”
शहजाद घरेलू सर्किट में जमकर पसीना बहा रहे हैं, लेकिन राष्ट्रीय टीम में उनकी वापसी मुश्किल है.

दूसरी ओर, कोहली पिछले कुछ वर्षों में ‘मेन इन ब्लू’ के मुख्य खिलाड़ी रहे हैं. उन्होंने खुद को टीम के सबसे महत्वपूर्ण सदस्यों में से एक के रूप में स्थापित किया है.