logo

Ganesh Jayanti: कल गणेश जयंती पर कर लें ये उपाय, मिलेंगे फायदे

Ganesh Jayanti: धार्मिक तौर पर देखे तो कई सारे पर्व त्योहार मनाए जाते है और सभी का अपना महत्व होता है पंचांग के अनुसार माघ मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को तिलकुंद चतुर्थी के नाम से जाना जाता है इस दिन को गणेश जयंती भी कहा जाता है मान्यता है कि इस साल तिलकुंद चतुर्थी का पर्व कल यानी 25 जनवरी दिन बुधवार को मनाया जाएगा.
 
Ganesh Jayanti: कल गणेश जयंती पर कर लें ये उपाय, मिलेंगे फायदे 

Ganesh Jayanti: इस दिन बुधवार पड़ने से इस दिन का महत्व और अधिक बढ़ गया है मान्यता है कि गणेश जयंती के दिन उपवास रखकर भगवान श्री गणेश की पूजा आराधना करने से भक्तों को उत्तम फलों की प्राप्ति होती है और सारे कष्टों से भी राहत मिल जाती है. 

इस दिन कुछ विशेष उपायों को करना भी लाभकारी होता है तो आज हम आपको अपने इस लेख द्वारा इन्हीं उपायों के बारे में बता रहे है तो आइए जानते है. 


गणेश जयंती पर करें ये उपाय—


आपको बता दें कि कल यानी की गणेश जयंती के दिन भगवान श्री गणेश को तिल के लड्डू, रेवड़ी, गजक का भोग लगाना उत्तम माना जाता है आप इन मिठाईयों का दान भी गरीबों और जरूरतमंदों में कर सकते है मान्यता है कि ऐसा करने से श्री गणेश अपने भक्तों की सभी मुराद पूरी कर देते है.

 

वही अगर किसी जातक के विवाह में अड़चन आ रही है या फिर विवाह के योग नहीं बन रहे है तो ऐसे में इस दिन श्री गणेश को हल्दी की साबूत 11 गांठ अर्पित करें फिर पूजा के बाद इन्हें एक पीले वस्त्र में लपेटकर अपने कमरे में ऐसी जगह पर रख दें जहां पर किसी की नजर न पड़ें.

 

मान्यता है कि इस उपाय को करने से शीघ्र विवाह के योग बनने लगते है और विवाह के बाद हल्दी की इस पोटली को नदी में प्रवाहित कर दें. वही संतान सुख की इच्छा रखने वाले गणेश जयंती के दिन भगवान श्री गणेश की बाल रूप में पूजा करें मान्यता है कि इस दिन संतान गणपति स्तोत्र का पाठ करने से मनोकामना पूर्ण हो जाती है.