logo

सता रहा है कालसर्प दोष और पितृदोष तो करें ये विशेष उपाय

धर्म-कर्म डेस्क. ज्योतिषशास्त्र में ग्रह नक्षत्र और कुंडली को विशेष माना जाता है और यह जातक के जीवन पर भी प्रभाव डालती है.

 
सता रहा है कालसर्प दोष और पितृदोष तो करें ये विशेष उपाय

Haryana Update: कहते है अगर किसी जातक की कुंडली में सभी ग्रह शुभ है तो जातक का जीवन में सभी सुख सुविधाओं की प्राप्ति होती है और हर कार्य में सफलता मिलती है लेकिन अगर कुंडली में कोई दोष हो तो जातक के जीवन में समस्याओं का अंबार लग जाता है ज्योतिष अनुसार कालसर्पदोष और पितृदोष को बेहद अशुभ बताया गया है

 

अगर ये किसी जातक की कुंडली में होता है तो उसके जीवन से सभी सुख शांति चली जाती है और कार्यों में सफलता मिलती है ऐसे में इन दोषों से छुटकारा पाने के लिए कई तरह के उपाय किए जाते हैं अगर आप भी कालसर्पदोष या पितृदोष से पीड़ित है तो ऐसे में रोजाना सर्प सूक्तम् स्तोत्र का संपूर्ण पाठ करें मान्यता है कि इसका पाठ करने से कालसर्पदोष, पितृदोष और सर्प के भय से मुक्ति मिल जाती है तो आज हम आपके लिए लेकर आए है संपूर्ण सर्प सूक्तम् स्तोत्र पाठ।

 

॥ अथ श्री सर्प सूक्तम् स्तोत्र ॥
ब्रह्मलोकेषु ये सर्पा शेषनाग परोगमा: ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।
इन्द्रलोकेषु ये सर्पा: वासु‍कि प्रमुखाद्य: ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।
कद्रवेयश्च ये सर्पा: मातृभक्ति परायणा ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।
इन्द्रलोकेषु ये सर्पा: तक्षका प्रमुखाद्य ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।
सत्यलोकेषु ये सर्पा: वासुकिना च रक्षिता ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।
मलये चैव ये सर्पा: कर्कोटक प्रमुखाद्य ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।
पृथिव्यां चैव ये सर्पा: ये साकेत वासिता ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।

 
सर्वग्रामेषु ये सर्पा: वसंतिषु संच्छिता।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।
ग्रामे वा यदि वारण्ये ये सर्पप्रचरन्ति ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।
समुद्रतीरे ये सर्पाये सर्पा जंलवासिन: ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।
रसातलेषु ये सर्पा: अनन्तादि महाबला: ।
नमोस्तुतेभ्य: सर्पेभ्य: सुप्रीतो मम सर्वदा ।।

॥ इति श्री सर्प सूक्तम् स्तोत्र ॥

 

हरियाणा के पानीपत में सिलेंडर फटने से 6 लोगों की मौत