logo

UPSC रिजल्ट में हरियाणा ने मारी बाजी, टॉप 100 में 13 होनहार हरियाणवी! देखिए

UPSC 2022 Result: संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा परीक्षा के परिणाम की घोषण कर दी है। इसमें हरियाणा के युवाओं का भी अच्छा प्रदर्शन रहा है। टॉप-100 में 13 युवाओं ने जगह बनाई। आइए जानते हैं हरियाणा के उन युवाओं के बारे में जिन्होंने यूपीएससी क्रैक किया है.

 
UPSC 2022 Result

UPSC 2022 Result : यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2022 में हरियाणा के युवाओं ने अपनी मेहनत और काबिलियत के बल डंका बजाया है. हरियाणा के पूर्व डीजीपी मनोज यादव के बेटे अनिरुद्ध यादव ने 8वीं रैंक हासिल की है. जबकि कैथल की कनिका गोयल ने 9वीं रैंक हासिल की है. इसी तरह कई और युवाओं ने अपनी काबिलियत का लोहा मनवाया है. आइए जानते हैं हरियाणा के उन युवाओं के बारे में जिन्होंने यूपीएससी क्रैक किया है.

साउथ दिल्ली के SDM अभिनव की 12वीं रैंक

साउथ दिल्ली में एसडीएम अभिनव सिवाच ने इस बार 12वीं रैंक हासिल है. साल 2020 में वह 16वीं रैंक पाकर आईएएस बने थे. उन्हें यूटी कैडर मिला था. वह होम कैडर यानी हरियाणा चाहते थे. जिसके चलते उन्होंने एक बार फिर से यूपीएससी परीक्षा में बैठने का फैसला किया था.

DFCCIL Recruitment 2023: रेलवे मे निकली 10वीं और 12वीं पास के लिए 535 पदों पर सरकारी नौकरी
 

अभिनव सिवाच ने इंजीनिरिंग और एमबीए किया है. वह यूपीएससी की तैयारी शुरू करने से पहले एक MNC में 35 लाख सैलरी की जॉब कर रहे थे. उनके पिता पिता सतबीर सिंह सिवाच गुड़गांव में आबकारी और कराधान विभाग में आयुक्त हैं. अभिनव 2020 में आईएएस बनने से पहले तहसीलदार पद पर जॉब कर रहे थे.

हमारे साथ व्हट्सऐप पर जुड़ने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें - Click Here
Facebook पर जुड़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें - Click Here
हमें आप अपनी बात या खबर ईमेल के माध्यम से भी भेज सकते हैं- haryanaupdate2022@gmail.com
साथ ही अन्य खबरों को वीडियो के माध्यम से देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल से जुड़े - Click Here

गुड़गांव के प्रियांशु ने पाई 65वीं रैंक

गुड़गांव के प्रियांशु ने यूपीएससी में 65वीं रैंक हासिल की है. सेक्टर-15 में रहने वाले प्रियांशु का यह आखिरी अटेंप्ट था. इससे पहले वो 5 बार यूपीएससी की परीक्षा में बैठ चुके थे. वह वर्ष 2018 से रेलवे में जॉब कर रहे थे. उनकी पोस्टिंग अहमदाबाद में थी. उनके पिता विजय कुमार शर्मा चीफ इंजीनियर के पद से रिटायर हुए हैं. मां रुचि शर्मा हाउस वाइफ हैं और छोटी बहन मायरा जॉर्जटाउन यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर रही है.

यह भी पढ़े:क्या आपका भी सपना है सरकारी टीचर बनने का, तो इस वेबसाइट से करें अप्लाई...

झज्जर की मुस्कान ने हासिल की 72वीं रैंक

झज्जर के सेहलंगा गांव की मुस्कान डागर ने यूपीएससी में 72वीं रैंक हासिल की है. मुस्कान डागर को पिछले साल हुई यूपीएससी की परीक्षा में 474वीं रैंक हासिल हुई थी. मुस्कान इन दिनों यूपीएससी की ट्रेनिंग पर है. मंगलवार को जब मुस्कान का रिजल्ट आया तो उनके माता-पिता और दादा को भी खुशी का ठिकाना न रहा.

यूपीएससी में 88वीं रैंक हासिल करने वाली निधि डागर.

करनवाल की मनसवी की 101 रैंक

हरियाणा में कर्ण नगरी करनाल के मनसवी शर्मा ने यूपीएससी की परीक्षा 101वीं रैंक के साथ पास की है. सेक्टर-9 के रहने वाले मनसवी शर्मा के पिता डॉ. राधेश्याम शर्मा चौधरी देवीलाल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर रहे हैं. जबकि मां डॉ. रेखा शर्मा राजकीय महिला कॉलेज तरावड़ी की प्रिंसिपल हैं.

दीपक की 495वीं रैंक

गुरुग्राम के सुशांत लोक में रहने वाले दीपक यादव ने यूपीएससी की परीक्षा में 495वीं प्राप्त की है. पहले अटेम्प्ट में ही ऑल इंडिया रैंकिंग में अपनी जगह बनाने में कामयाब रहे. दीपक के पिता राजेंद्र यादव एक बिजनेसमैन है और मां सुशीला यादव होममेकर हैं. दीपक ने बताया कि लंबे समय से वो यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी कर रहे थे. अपनी बैचलर की पढ़ाई हंसराज कॉलेज से की है और आईआईएम अहमदाबाद से एमबीए किया है.

अनमोल ने यूपीएससी में पाई 655वीं रैंक

अनमोल यादव ने सिविल सर्विस एग्जाम में 655 रैंक हासिल की. गुरुग्राम सेक्टर 6 में रहने वाले अनमोल के पिता आनंद विदेश मंत्रालय सेवा से सेक्शन ऑफिसर पद से रिटायरमेंट हुए हैं और मां गृहणी है. पिता ने बताया की अनमोल बी. टेक मैकेनिकल इंजीनियरिंग एनआईटी जयपुर और एमए की पढ़ाई जेएनयू दिल्ली से इंटरनेशनल रिलेशन से की है. अभी फिलहाल बैंगलोर में ईडी टेक कंपनी में नौकरी कर रहे थे. अनमोल बहुत अच्छे क्रिकेट हैं और टेनिस खिलाड़ी रहे हैं.

सोनीपत और कैथल की बेटियां का कमाल

सोनीपत की बेटी निधि कौशिक ने यूपीएससी में 88वीं रैंक हासिल किया है. इससे पहले साल 2021 में निधि ने 286वीं रैंक हासिल की थी. निधि कौशिक चौथी बार परीक्षा में बैठी थीं. वहीं कैथल से तीन युवाओं ने परीक्षा उत्तीर्ण की. दिव्यांशी सिंगला ने 95वां रैंक, गुलियाना के हरदीप सिंह रापड़िया ने 227वां रैंक हासिल किया. जबकि

हिसार के प्रतीक ने हासिल किया 93वीं रैंक

हिसार जिले में आदमपुर हलके के गांव लाडवी के मूलनिवासी प्रतीक कीरडोलिया ने 93 वीं रैंक प्राप्त किया है. उनके पिता राधाकृष्ण ईपीएफओ विभाग में उच्च अधिकारी हैं और वे दिल्ली में कार्यरत है.

पानीपत की मुस्कान भी बनीं आईएएस अफसर

पानीपत के मॉडल टाउन निवासी मुस्कान खुराना ने यूपीएससी की परीक्षा में 98वीं रैंक हासिल की है. पिता विवेक खुराना ने बताया कि बेटी मुस्कान खुराना 25 वर्ष की हैं. उसका 98वां रैंक आया है. यह उसका तीसरा प्रयास था. उसकी स्कूली शिक्षा हिसार के विद्या देवी जिंदल स्कूल से हुई है.

सीएम मनोहर लाल ने दी बधाई

हरियाणा जुलाना की अंकिता पंवार को 28वां, चरखी दादरी के सुनील फोगाट को भी 77वां स्थान मिला है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सभी चयनित उम्मीदवारों को बधाई दी है. मुख्यमंत्री ने कहा कि आप सभी को सुखद भविष्य के लिए शुभकामनाएं, देश की सेवा कर आप सभी प्रदेश और परिवार का नाम रोशन करें.