logo

Crime News: बेसबॉल बैट और लाठी से पीट-पीट कर बेटे ने कर दी अपने ही पिता की हत्या

Crime News: पुलिस ने हत्या के आरोप में मृतक के नाबालिग बेटे और उसके तीन साथियों को छह घंटे के अंदर पकड़ लिया. नाबालिग के दोस्तों की पहचान आदित्य, नितिन और जितेश गुप्ता के रूप में हुई है.
 
Crime News: बेसबॉल बैट और लाठी से पीट-पीट कर बेटे ने कर दी अपने ही पिता की हत्या 

Crime News: इंसान के लिए सबसे अहम परिवार होता है और अगर कोई खुद ही अपने परिवार के किसी सदस्य की हत्या कर दे तो जाहिर है वजह बेहद बड़ी होगी. देश की राजधानी दिल्ली के उत्तर पश्चिमी जिले के नेताजी सुभाष पैलेस इलाके में उत्तराखंड के चमोली का एक परिवार रहता है. सोमवार को नेताजी सुभाष पैलेस इलाके में एक मकान में एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या करने की पीसीआर कॉल पुलिस को मिलती है. जांच में बेहद चौकाने वाले तथ्य सामने आते हैं. 

 


उत्तर पश्चिमी दिल्ली की डीसीपी ऊषा रंगरानी के मुताबिक, पुलिस मौके पर पहुंची तो घर की चौथी मंजिल पर बने कमरे में 50 साल के शख्स का खून से लथपथ शव फर्श पर पड़ा था. घर में न मृतक की पत्नी थी और न ही बच्चे.

फोन करने पर मृतक की पत्नी ने बताया कि पति के आए दिन के झगड़े के बाद वह गुस्से में अपने घर चली गई थी. पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरू की.

पुलिस को घटनास्थल को देखकर अंदेशा हुआ कि हत्या करने वाला कोई जानकार हो सकता है. पुलिस ने घर के लोगों के बारे में पता करने की कोशिश की. घर के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाला. घर के एग्जिट गेट के पास लगे एक सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में पता चला कि रात करीब साढ़े 11 बजे दो संदिग्ध घर से बाहर निकलते देखे गए.

रात होने के कारण फुटेज साफ नहीं थी. मृतक के घर से काफी दूर एक और सीसीटीवी कैमरा भी था. पुलिस ने हुलिया के आधार पर मृतक के परिजनों की लोकेशन, मूवमेंट का पता किया. तब जाकर पता लगा कि हत्या में घर के ही नाबालिग का हाथ है.

नाबालिग से पूछताछ करने पर उसने पुलिस को गुमराह करने की काफी कोशिश की. नाबालिग से सख्ती से पूछताछ करने पर उसने हत्या करने की बात मानी. नाबालिग बेटे ने बताया कि उसके पिता काफी ज्यादा शराब पीते थे.

 

 

उसकी मां और बहन घरों में काम करके घर का खर्चा चलाया करती हैं. पिता शराब पीने के अलावा कोई काम नहीं करते थे. वो शराब के लिए मां और बहन से पैसे मांगते थे. पैसे नहीं देने पर झगड़ा और मारपीट करते थे,

वारदात से तीन दिन पहले भी पिता ने मां से मारपीट की थी. अगले दिन सुबह मां शकूरपुर स्थित अपने रिश्तेदार के यहां चली गई. बीते रविवार को वो अपने मकान मालिक के पास पहुंचा और आपबीती बताई. आरोप है कि मकान मालिक जितेश गुप्ता ने नितिन और आदित्य नाम के दो लड़के बुलाए.

नाबालिग ने बताया कि रात करीब साढ़े 11 बजे वह आदित्य और ताने के साथ बेसबॉल बैट और लाठी लेकर पहुंचा और पिता की पीट-पीट कर हत्या कर दी. पुलिस ने हत्या के आरोप में मृतक के नाबालिग बेटे और उसके तीन साथियों को छह घंटे के अंदर पकड़ लिया. नाबालिग के दोस्तों की पहचान आदित्य, नितिन और जितेश गुप्ता के रूप में हुई है.