logo

Crime News: बदमाशों ने एटीएम में की तोड़फोड़, फिर भी लोटना पड़ा खाली हाथ

Robbery in ATM: मध्यप्रदेश के इंदौर में तीन बदमाश रुपए लूटने एटीएम में घुस गए. इन नकाबपोश बदमाशों ने शटर गिराकर मशीन में तोड़फोड़ की. गनीमत यह रही कि तोड़फोड़ के बाद बदमाश रुपए लूटने में असफल रहे. मामला इंदौर के चंदन नगर थाना इलाके के जवाहर टेकरी रोड पर बने एक्सिस बैंक एटीएम का है. घटना सीसीटीवी कैमरे में रिकॉर्ड हो गई. इसके आधार पर पुलिस बदमाशों की तलाश कर रही है.
 
Crime News. बदमाशों ने एटीएम में की तोड़फोड़, फिर भी लोटना पड़ा खाली हाथ

Robbery in ATM: इंदौर के चंदन नगर थाना इलाके में बदमाशों ने एटीएम में तोड़फोड़ कर दी. लेकिन उसके बाद भी पैसे उनके हाथ नहीं लग पाए. इलाके के जवाहर टेकरी रोड पर बने एक्सिस बैंक एटीएम पर देर रात तीन नकाबपोश बदमाश एटीएम में दाखिल हुए. बदमाश एटीएम मशीन तोड़ने में सफल हो गए लेकिन नगदी नहीं ले जा पाए. बदमाशों की लूट की हरकत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. फुटेज के आधार पर पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी है.

 

 

सीसीटीवी फुटेज में नकाब पहने तीन बदमाश एटीएम में आते हुए दिखाई दे रहे हैं. उसके बाद एक बदमाश मशीन से छेड़छाड़ करता दिखाई दे रहा है. जैसे ही एटीएम में हुई हलचल की सूचना बैंक मैनेजर को लगी, तो मैनेजर ने देरी न करते हुए पुलिस को घटना की जानकारी दी. अब पुलिस फुटेज में नजर आ रहे तीनों बदमाशों की तलाश करने में जुटी हुई है.

तीन नकाबपोश लूट के इरादे से एटीएम में घुसे 


एटीएम मशीन में तोड़फोड़ की घटना चंदन नगर थाना इलाके के जवाहर टेकरी रोड पर बने एक्सिस बैंक के एटीएम में हुई. देर रात चेहरे पर नकाब पहनकर तीन बदमाश एटीएम में दाखिल हुए. एटीएम के शटर को बंद कर बदमाशों ने एटीएम मशीन को खोलने की कोशिश की लेकिन सफल नहीं हो सके.

हालांकि इस वीडियो से साफ है कि यह बदमाश एटीएम से लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए दाखिल हुए थे. अपने इरादों में कामयाब ना होने पर ये नकाबपोश बदमाश एटीएम मशीन को छोड़कर भाग निकले.


पुलिस बदमाशों की तलाश कर में जुटी 


गनीमत है कि बदमाश एटीएम मशीन में से नगदी नहीं लूट पाए. फिलहाल पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बदमाशों की तलाश में जुटी है. हालांकि यह कोई पहला मामला नहीं है जब बदमाशों ने एटीएम मशीन को निशाना बनाया हो. इससे पहले भी कई बार एटीएम मशीन में लूट की घटनाएं सामने आती रही हैं. इसमें से कई तो अब तक अनसुलझी हैं.