logo

Earthquake: देर रात दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत में भूकंप, लोगों में दहशत फैली, घरों से बाहर निकले

Big Breaking : Delhi NCR समेत पूरे उत्तर भारत में मंगलवार की देर रात भूकंप (Earthquake) के तेज झटके लगे. भूकंप की सूचना बताने और कन्फर्म करने के लिए लोगों के फोन घनघनाते रहे.
 
Earthquake: देर रात दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत में भूकंप, लोगों में दहशत फैली, घरों से बाहर निकले

Delhi NCR Earthquake: नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी(National Center for Seismology) के मुताबिक इसका केंद्र नेपाल के मणिपुर में जमीन से 10 किलोमीटर नीचे था.

बता दें कि उत्तर भारत में महज पांच घंटे के भीतर दूसरी बार भूकंप के झटके महसूस हुए हैं. दिल्ली-एनसीआर(delhi NCR) समेत पूरे उत्तर भारत में मंगलवार की देर रात भूकंप (Earthquake) के तेज झटके लगे.

दो बार में तेज झटके लगने से कई कॉलोनियों व मोहल्लो में लोग घरों से बाहर निकल आए. भूकंप के झटके देर रात 1.58 बजे महसूस किए गए. कुछ रुककर दो बार झटके(Delhi-NCR Earthquake) लगने से नींद में सोए लोग भी जाग गए और घरों से बाहर निकल आए.

National Center for Seismology के मुताबिक इसका केंद्र नेपाल(Nepal) के मणिपुर में जमीन से 10 किलोमीटर नीचे था. उत्तर भारत में महज पांच घंटे के भीतर दूसरी बार भूकंप के झटके महसूस हुए हैं.

"मंगलवार रात आठ बजकर 52 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस"

इससे पहले मंगलवार रात आठ बजकर 52 मिनट पर लखनऊ(Lucknow) समेत यूपी के कई हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. उसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.9 मापी गई थी. बुरी तरह घबराए लोगों में से कुछ ने अपने घरों और दीवारों को चेक करना शुरू कर दिया.

Crime News: प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने की अपने पति की हत्या, काट डाला गुप्त अंग...

कुछ देर में भूकंप की सूचना एक-दूसरे को बताने और इसे कनफर्म करने के लिए लोगों के फोन घनघनाते रहे. जानकारों के मुताबिक भूकंप की तीव्रता 6.3 से अधिक थी. दिल्ली-एनसीआर(Delhi-NCR Earthquake) के अलावा उत्तर प्रदेश और

उत्तराखंड के आसपास के जिलों में भी लोगों ने भूकंप(Earthquake) के झटके महसूस किए.

बता दें कि भूकंप के झटके यूपी के लखनऊ, मुरादाबाद, मेरठ बरेली(Earthquake tremors UP's Lucknow, Moradabad, Meerut Bareilly) आदि शहरों में भी महसूस किए गए. वहीं एनसीआर के फरीदाबाद, गुरुग्राम, ग्रेटर नोएडा में भी झटके महसूस हुए. इस दौरान कई जगह से लोगों के बेड तक हिलने की खबर आई. हालांकि राहत की बात यह है कि कहीं से किसी तरह की दुर्घटना की खबर नहीं आई.