logo

हरियाणा में पड़ रही है रही है कड़ाके की ठंड, अभी भी तापमान में आ सकती और गिरावट

शीतलहर के साथ-साथ पड़ रही है हाड़ कंपकपाने वाली ठंड,तापमान पहुँच गया जमाव के बिंदू पर
 
pic

Haryana Update:हरियाणा में पड़ रही है हाड़ कंपा देने वाली ठंड। चंडीगढ़ में उत्तर-पश्चिमी में चली सर्द हवाएँ  पड़ रही है कडाके की ठंड।  कई स्थानों पर लगातार दूसरे दिन भी  पड़ा पाला और न्यूनतम तापमान पहुँच गया  जमाव के बिंदु पर।  आपके बता दें कि हिसार जिले के बालसमंद में रही सबसे सर्द रात बालसमंद का न्यूनतम तापमान -0.2 डिग्री सेल्सियस किया गया  रिकॉर्ड।  -0.4 डिग्री सेल्सियस के साथ बालसमंद के बाद महेंद्रगढ़ राज्य में भी रहा सबसे ठंडा दिन, हिसार का न्यूनतम पारा 0.8 डिग्री सेल्सियस रहा।

बढ़ते  पाल़े को देखकर किसानों कि टेंशन बढ़ी।  ठंड ज्यादा पड़ने से किसानों की धड़कनें भी  हो गई  है तेज। लगातार बढ रही ठंड को देखकर  अनाज व सब्जियों के खराब होने कि संभावना भी ठंड के  साथ-साथ बढ़ने लगी है। हालाँकि दिन में  धूप भी निकली थी, सर्द हवाओं  लोगों को कंपकपाया।

इन सभी के बीच नही थमा शीतलहर का कहर। शीतलहर ने लोगों को पूरी तरह से कंपकपाने पर किया मजबूर। इस शीतलहर का सबसे ज्यादा असर किसानों पर ही पड़ता दिखाई दिया। क्योकिं इस शीतलहर का सबसे ज्यादा प्रभाव फसलों पर ही पड़ता दिखाई देगा।     

मौसम विभाग के अनुसार 
हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कृषि मौसम विज्ञान विभाग के प्रमुख डॉ. मदन खीचड़ के अनुसार, 18 जनवरी तक राज्य में मौसम आमतौर पर शुष्क रहने की रहेगी संभावना। इस दौरान उत्तरी और उत्तर पश्चिमी ठंडी हवाएं चलने की बढ़ी संभावना।  जिससे रात के तापमान में और गिरावट आने की संभावना है.उत्तर पश्चिमी और दक्षिण अंचल के जिलों में कहीं-कहीं पाला पड़ने की भी संभावना जताई जा रही है।

तापमान में हो सकता है परिवर्तन

बताया जा रहा   है कि रात के तापमान में रहेगी गिरावट। मामूली बढ़ोतरी होने की संभावना है लेकिन 19 जनवरी से पश्चिमी विक्षोभ के आंशिक प्रभाव से हवा उत्तर-पश्चिम से पूर्व की ओर चलने और आंशिक बादल छाये रहने की भी संभावना जताई जा रही है। जिससे रात के तापमान में  फिर से हो सकती हो बढ़ोत्तरी। मौसम विभाग के अनुसार 23 और 24 को हो सकती है बूंदाबांदी।  तेज हवाओं के साथ-साथ रहेगा बूंदाबांदी का आसार।